simhasthujjain

पुलिस महानिदेशक सुरेंद्रसिंह ने सिंहस्थ में पुलिस व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया« वापस

07th Apr, 2016

उज्जैन 06 अप्रैल। प्रदेश के पुलिस महानिदेशक सुरेंद्रसिंह ने सिंहस्थ के दौरान की जाने वाली पुलिस व्यवस्थाओं का निरीक्षण आज किया। उन्होंने स्थानीय पुलिस अधीक्षक कार्यालय परिसर में बनाये गये पुलिस कंट्रोल रूम का निरीक्षण किया। कंट्रोल रूम पर सीसीटीवी के जरिये की जा रही शहर की मॉनीटरिंग व्यवस्था का जायजा लिया। शहर के विभिन्न स्थानों पर लगाये गये सीसीटीवी, उनकी गुणवत्ता तथा अन्य बातों की जानकारी प्राप्त की। इस दौरान आईजी व्ही.मधुकुमार, डीआईजी राकेश गुप्ता, पुलिस अधीक्षक एम.एस.वर्मा तथा अन्य पुलिस अधिकारी उपस्थित थे।

      पुलिस महानिदेशक ने शिप्रा किनारे राणौजी की छत्री पर बनाये जा रहे वृहद पुलिस कंट्रोल रूम का निरीक्षण किया। कंट्रोल रूम पर छह कक्ष निर्मित किये जा रहे हैं। इनमें मीटिंग कक्ष के अलावा विश्राम कक्ष तथा कार्य गतिविधियों के संचालन के लिये कक्षों का निर्माण सम्मिलित है। उन्होंने आगमन तथा निर्गम पाइन्ट्स का भी अवलोकन किया। स्टाफ के लिये बनाये गये लेटबाथ का भी निरीक्षण करते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश एसपी को दिये। इसके पूर्व पुलिस अधीक्षक कार्यालय परिसर का निरीक्षण करते हुए उन्होंने बायोमैट्रिक सिस्टम का भी जायजा लिया। विभिन्न कक्षों में भ्रमण करके की जा रही कार्यवाहियों की जानकारी प्राप्त की।

      मुल्लापुरा क्षेत्र में स्वामी अवधेशानंदजी के आश्रम में भी पुलिस महानिदेशक पहुंचे। इस दौरान स्वामीजी ने सिंहस्थ के दौरान की जाने वाली गतिविधियों, कार्यक्रमों की जानकारी का आदान-प्रदान किया। स्वामीजी ने बताया कि उनके आश्रम परिसर में पं.जसराज, सोनल मानसिंह, हरिप्रसाद चौरसिया, राजन-साजन मिश्र जैसे ख्यात कलाकारों के सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किये जायेंगे। पुलिस महानिदेशक ने लगभग 20 एकड़ में फैले इस वृहद आश्रम का अवलोकन किया। स्वामीजी ने बताया कि सिंहस्थ के दौरान आश्रम परिसर में वेदों की सभी शाखाओं का पारायण होगा। आहूति के साथ हवन भी किये जायेंगे। आश्रम इको-फ्रेंडली बनाया गया है। प्रतिदिन लगभग 50 हजार साधुओं को भोजन करवाया जायेगा।

      पुलिस महानिदेशक ने मुल्लापुरा क्षेत्र में पुलिस का फायर स्टेशन और फायर हाइड्रेंट का भी निरीक्षण किया। सिंहस्थ के दौरान अग्निशमन व्यवस्था के लिये ये व्यवस्था की गई है। उन्होंने मंगलनाथ क्षेत्र में पुलिस कैम्प का भी निरीक्षण किया। यहां पर बैंगनी ड्रेसकोड में सफाईकर्मी सफाई करते नजर आ रहे थे। उन्होंने पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिये कि सिंहस्थ के लिये बनाये गये पुलिस कैम्पों का सतत निरीक्षण अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक स्तर के अधिकारियों से करवाया जाये। व्यवस्थाओं को सुचारू रूप से संचालित करने के लिये यह उचित होगा कि प्रत्येक अधिकारी तीन-तीन पुलिस कैम्प पहुंच कर जायजा ले।

गूगल मानचित्र

संगीत

समाचार