simhasthujjain

दिशा निर्देश - क्या करें / क्या न करें

यह करें

  • तीर्थयात्रियों से अनुरोध है कि स्नान क्षेत्र/घाट का उपयोग करें, जो आपकी सुविधा और सुरक्षा के लिए मेला प्रशासन द्वारा अधिकृत है।
  • आप शहर अथवा मेला क्षेत्र में जहाँ भी ठहरें, उसके आस-पास के स्थान या घाट का उपयोग स्नान के लिए करें।
  • कोई भी अज्ञात या संदिग्ध वस्तु दिखाई दे, तो उसके बारे में मेला प्रशासन या पुलिस कण्ट्रोल रूम को अवश्य सूचित करें।
  • श्रद्धालुओं से यह भी अनुरोध है कि शहर और मेला क्षेत्र में यातायात के नियम और कानून का पालन करें।
  • किसी भी असुविधा से बचने के लिए ‘सेण्ट्रल पब्लिक एड्रेस सिस्टम’ के माध्यम से दी गई सलाह और निर्देशों का पालन करें।
  • कचरे के डिब्बे में ही कचरा फेंका जाना चाहिए।
  • तीर्थयात्रियों और यात्रियों से अनुरोध है कि धार्मिक और सांस्कृतिक संवेदनशीलता को ध्यान में रखते हुए परिधान धारण करें। स्थानीय लोग इस सम्बन्ध में सलाह देने के लिए तत्पर रहते हैं।

यह न करें

  • उज्जैन में सिंहस्थ महाकुम्भ के दौरान माननीय उच्च न्यायालय और सरकार द्वारा प्लास्टिक की थैलियों का प्रयोग प्रतिबंधित है।
  • नदी तट पर कपड़े की धुलाई करने से बचें।
  • अत्यधिक भीड़-भाड़वाली नावों पर सवार होने से बचें।
  • तीर्थयात्रियों और यात्रियों को सलाह दी जाती है कि भिक्षावृत्ति को प्रोत्साहित न करें।
  • नदी में स्नान करते समय साबुन का प्रयोग करने से बचें।
  • पूजा या अनुष्ठान में प्रयोग होने वाली सामग्री को नदी में फेंकने से बचें।

गूगल मानचित्र

संगीत

समाचार